विधवा आश्रम को बचाने उतरी नगर निगम की टीम

कोरोना काल में जहां मनीराम रोड़ स्थित विधवा आश्रम में निर्माण कार्य तहसील की सील लगने के बावजूद भी गतिमान था, वहां आज नगर निगम

दुश्मनों से तो बच गया पर अपनों के बीच खो गया

देवभूमि की अस्थाई राजधानी देहरादून में जम्मू सीमा से आया फौजी अचानक कहाँ खो गया, ये पुलिस प्रशासन पर गंभीर सवाल उठा रहा है। उस

गंदा है पर धंधा है : तीर्थनगरी के दो तस्कर गिरफ्तार

सुभाष आर्य पुत्र चंद्र मोहन निवासी गुलरानी रूसा फार्म, उम्र 40 वर्ष और रामप्रसाद पुत्र स्वर्गीय रामेश्वर प्रसाद गंगवाल निवासी गली नंबर अट्ठारह कैनाल रोड

अक्कड़ बक्कड़ बम्बे बो, डीजल नब्बे पेट्रोल सौ। सौ में लगा धागा, सिलेंडर उछल कर भागा।

जनता की समझ से परे है कि जो नरेंद्र मोदी 2014 के चुनावी कैंपेन में इसी महंगाई पर तत्कालीन सरकार को कोसते थे वो आज

Nh74 के एक मुख्य आरोपी की मृत्यु

गवाही के लिए उधमसिंहनगर आए थे लेकिन रात 11 बजे अचानक तबियत खराब होने से हुई मृत्यु। राज्य का जाना माना मुआवजा वितरण से सम्बंधित

कहीं एक दिन की मुख्यमंत्री ढेंचा बीज और एनएच 74 घोटाले की जांच न खोल दे

नायक फ़िल्म में तो एक दिन के मुख्यमंत्री ने कई भ्रष्टाचार मंत्रियों, अधिकारियों और मुख्यमंत्री तक को निलंबित कर जेल तक भेज दिया था। कहते

देवभूमि में वन भूमि खतरे में

नरेंद्रनगर और ऋषिकेश विधानसभा के वन विभाग अपनी भूमि भूमाफियाओं से बचाने में नाकाम। क्षेत्रीय और मनोनीत प्रतिनिधियों की भूमिका संदिग्ध। नरेंद्रनगर विधानसभा के ढालवाला

बिग एक्सक्लूसिव : आखिर कैसे दें बिजली

अतिक्रमणकारियों ने कहीं कोई जगह ही नहीं छोड़ी है। सभी को बिजली तो चहिये, पर कोई भी बिजली पहुँचाने वाले खंभों के लिए अपनी जगह

पालिका के ‘भ्रष्टाचारी’ निगम में भी भारी

पुराने भ्रष्ट कर्मचारी ही दे रहे हैं भ्रष्टाचार का ज्ञान। तीर्थनगरी की कुछ पुरानी धर्मशालाओं के खुर्दबुर्द की चल रही है तैयारी। ऋषिकेश नगरपालिका के

नड्डा के हरीद्वार आगमन के दिन लांबा की गोली लगने से मौत

कई उच्च अधिकारियों समेत नेताओं व निजी स्कूलों पर छात्रवृत्ति घोटाले के आरोप साबित होने के साथ इनके बीच तारों का खुलासा करने वाले थे