एनएच का नाला बना नगर निगम के लिए मुसीबत

एनएच का नाला बना नगर निगम के लिए मुसीबत

पुरानी चुंगी में दो बूँद बारिश से भी होने वाले जलभराव पर मेयर ने ली विभागों की संयुक्त बैठक। बैठक में उठी संयुक्त सर्वे की बात। जल संस्थान व एन एच विभाग हरकत में आया।
एन एच के निर्माणाधीन नाले का होगा ज्वांइट इंस्पेक्शन-अनिता ममगाई
पुरानी चुंगी पर जल भराव की समस्या के निस्तारण के लिए विभागीय कसरत शुरू।

तीर्थनगरी की पुरानी चुंगी में जल भराव की कई दशकों पुरानी समस्या के समाधान का प्रयास दिखने लगे गया है। आज नगर निगम कार्यालय मेयर द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग व जल संस्थान की संयुक्त बैठक की गई।
निगम अधिकारियों के साथ महापौर की अध्यक्षता में सोमवार की दोपहर निगम में आहुत तीनों विभागों की संयुक्त बैठक में ऋषिकेश-हरिद्वार राष्ट्रीय राजमार्ग पर पिछले काफी अर्से से गहराती जा रही उक्त समस्या को लेकर गंभीर मंथन किया गया। बैठक की अध्यक्षता कर रही महापौर ने कहा कि हरिद्वार रोड़ स्थित पुरानी चुंगी पर बरसात के दौरान नाले के ओवर फ्लो होने की वजह से जलभराव के साथ आवागमन में ना सिर्फ क्षेत्र के दुकनदारों बल्कि मार्ग से गुजरने वाले हजारों लेकर लोगोंं जिससे श्रद्वालु एवं पर्यटक सभी शामिल हैं को भारी दुश्वारियों का सामना करना पड़ रहा है। बैठक में तमाम विभागीय अधिकारियों द्वारा रखी गई बातों से निष्कर्ष निकला की इस लिए एन एच द्वारा सड़क किनारे बनाये गये नाले के सही लेवल ना होने की वजह से समस्या गहराई है जिसके लिए तीनों विभागों द्वारा ज्वांइट इंस्पेक्शन करने का निर्णय लिया गया। साथ ही निर्णय लिया गया कि सप्ताह भर के भीतर समस्या का निस्तारण कर दिया जायेगा।बैठक में मोजूद एन एच अधिशासी अभियंता रचना थपलियाल ने कहा कि ज्वांइट इंस्पेक्शन के बाद यदि एन एच द्वारा निर्माणाधीन नाले के लेवल में कोई कमी सामने आई तो उसे दुरूस्त करा दिया जायेगा। बैठक में मुख्य नगर आयुक्त गिरीश गुणवंत, निगम के अधिशासी अभियंता विनोद जोशी , सहायक नगर आयुक्त आनंद मिश्रवान, अवर अभियंता छत्रपाल सिंह,जल संस्थान के अधिशासी अभियंता हरीश बंसल, सहायक अभियंता शिव सिंह रावत, सफाई निरीक्षक अभिषेक मल्होत्रा आदि मोजूद रहे।

%d bloggers like this: